Quick online English speaking course

<

>

लेसन (अध्याय) - 2-I

स्टोरी (कहानी) - 4
आज मेरे एक रिलेटिव (रिश्तेदार) की डाटर (बेटी) की वेडिंग (विवाह) है। शाम को रिसेप्शन (स्वागत समारोह) में जाउंगी। कल नाइट (रात) में हेवी रैन (तेज वारिस) हुई, अभी भी ड्रिज्लिंग (बूंदा बांदी) हो रही है। आज डेटाइम (दिन के समय) में ही इतनी डार्कनेस (अँधेरा) है, क्लाउड् (बादल) बहुत है | शाम को ८ बजे पूरी फेमिली (परिवार) कार से रिसेप्शन अटेंड (शामिल) करने गये । ओन दा वे (रस्ते में) कार में फ्यूल (ईधन) रिफिल (भरवाना) कराया| देन (फिर), एटीएम से मनी (धन) विदड्रा (निकलना/वापिस लेना) किया पहले ट्रांजेकसन (लेन-देन) फ़ैल (विफल) हुआ फिर सही हुआ। मेरिज गार्डन पूरी तरह लाइट (रोशनी) और फ्लावर्स (फूलों) से डेकोरेट (सजावट) किया गया था। स्टेज पूरी तरह डेकोरेट था, उसमे डिफरेंट (भिन्न) वेरायटी (प्रकार) के फ्लावर्स जैसे रोज (गुलाब), सन फ्लावर (सूरजमुखी), लिली आदि |

हमने कपल (जोड़ी) को विस (बधाई) किया, एक बुके (गुलदस्ता) और गिफ्ट (तोहफा) दिया। ब्राइड (दुल्हन) बहुत सारी गोल्डन (सोने) ज्वेलरी (जेवर) नेकनेस (हार), ईयर रिंग्स (कान के बाले), बेन्गल्स (चुडियां)) और रेड (लाल) कलर (रंग) का लंहगा पहने थी, वह पूरी तरह गोर्जिअस (देवी) लग रही थी। ब्राइडग्रूम (दूल्हा) भी बहुत हेन्डसम (सुन्दर) लग रहा था। देन (फिर) हम, रिलेटिव्स (रिश्तेदारों) से गोसप (बातचीत) करके खाना खाने पहुंचे | बफेट (स्वरुची भोज) में दो तरह का खाना था वेजेटेरियन (शाकाहारी) और नान वेजेटेरियन (मांसाहारी)| हमने इस्टाटर (शुरूआती खाना) और सूप से स्टार्ट (शुरू) किया और खाना खाया । खाना बहुत डिलिसिअस (स्वादिष्ट) था। कुछ लोग अपनी प्लेट (थाली) में बहुत क्वांटिटी (मात्रा) में खाना रखे थे, और अननेसेसरी (अनावश्यक ) फ़ूड (खाना) वेस्ट (व्यर्थ) कर रहे थे। खाना जितना खाना हो उतना ही लेना चाहिए ताकि रिमेनिग (बचा हुआ) फुड किसी हंगरी (भूखे) को मिल सके। फाइनली (अंत में), आइसक्रीम खाई और वापिस लोटे|

स्टोरी (कहानी) - 5
कल नाईट (रात) से मेरे सन (पुत्र) को डायरिया (उल्टी-दस्त) हो गया, रात से मेनी टाइम्स (कई बार) वह वामेटिंग (उल्टी) एंड लूज मोसन (दस्त) कर रहा है। मैने रात से ही उसे ओआरएस पाउडर रिक्वायर्ड (जरुरी) क्वांटिटी (मात्रा) में वाटर में डिजाल्व (घोलकर) कर, पिलाना शुरु कर दिया। अदरवाइज (नही तो), उसे होस्पिटलाइज्ड (अस्पताल में भर्ती) करना पड़ता | डाक्टर को कॉल किया बट (किन्तु) उन्होंने कॉल अटेंड (फोन नही उठाना) नही किया। आफ्टर समटाइम (कुछ समय बाद), उनका मोबाइल अनरिचेबल (पंहुच के बाहर) बताने लगा। मैंने बेटे को हाई फीवर (तेज बुखार) आने पर सारी बॉडी (शरीर) मैं स्पोंजिंग (गिले कपड़े से पोछना) की और फोरहेड (माथे) पर कोल्ड वाटर (ठन्डे पानी) से भीगा क्लॉथ (कपड़ा) रखा। लास्ट टाइम (पिछली बार) के प्रेस्क्रिपसन (पर्चे) के एकाडिंग (अनुसार), मैंने पेरासिटामोल (ज्वर निवारक) का एक डोज (खुराक) दिया । वैसे, मैं उसका बहुत केयर (ख्याल) करती हूँ और आउट साइड फ़ूड (बहार का खाना) भी अवॉयड (टालना) करती हूँ। मोर्निंग (सुबह) से कुछ इम्प्रूवमेंट (सुधार) है, पर आज पेड्रीटीशियन (बच्चों के डाक्टर) से कंसल्ट (दिखाना) करना जरुरी है। देट्सवाई (इसलिए), डाक्टर से अपोंइन्मेंट लेना है। कल से मेड (आया/नोकरानी) भी नहीं आ रही उसका किड (बच्चे) आलवेज (हमेशा) सिक (बीमार) रहता है। इवन (यहां तक) , उसने तो अपने बच्चे का वेक्सीनेशन (टीकाकरण) भी नही कराया । लोगों में इतनी अवेरनेस (जानकारी) कब आएगी? वाईल (जबकि) गवर्मेन्ट (सरकार) फ्री (मुफ्त) फेसिलिटी (सुविधा) देती है| आज मुझे ही सारा काम ब्रॊमिंग (झाड़ू), मॉपिंग (पोंछा) वेसल्स (वर्तन) वाश और कुकिंग (खाना बनाना) करना पड़ेगा। ईवनिंग (शाम) में क्लोथ (कपड़े) वाश (धोना) और डस्टिंग (सफाई) करुँगी। Read lesson-2-II

अभ्यास -

कहानी को पढते समय काल्पनिक रूप से एक फिल्म बना लें। जिससे पढते समय वह द्रश्य नजर आयेंगे।
रिर्सच कर बनाई गई प्रथम 300 जरुरी शब्दों की लिस्ट।

< >


Quick online language learning course




© All rights Reserved.